क्या आप बरसात के दिनों में गले की इन “11” समस्याओं से जूझ रहे हैं | 11 Respiration related complaints during Monsoons

क्या आप बरसात के दिनों में गले की

इन “11” समस्याओं से जूझ रहे हैं जैसे

(11 Respiration related complaints during Monsoons) –

1- सर्दी-खाँसी,
2- बार-बार कफ निकलना
3- कफ के कारण छाती में
भारीपन रहना
4- जुकाम,निमोनिया,
5- सिर में भारीपन
6- लगातार नाक बहना,
7- गले में खराश,सूजन
8- आवाज में खराबी
9- टॉन्सिल की परेशानी
10- श्वांस लेने की दिक्कत
11- हमेशा नाक बंद रहना आदि

इनसे निजात पाने एवं स्थाई 

हल के लिए करें ये उपाय-

】5 ग्राम मधुयष्ठी
】5 ग्राम छोटी पिप्पली
】2 ग्राम कालीमिर्च
】2 ग्राम सोंठ
】1 ग्राम लौंग (करनफूल)
】100 मिलीग्राम केशर
】100 मि.ग्रा.अमृतम
】अभ्रक भस्म सहस्त्रपुटी
सबको मिलाकर महीन कर
15 खुराक बनालें
सेवन विधि-
सुबह खाली पेट
अमृतम मधु पंचामृत” में
15 से 20 ग्राम में मिलाकर चाटें।
ऊपर से गर्म-गर्म दूध या जल लेवें
दुपहर एवं शाम को खाने से 1 घंटे
पहले ∆-उपरोक्त विधि ∆ से दिन में
3 से 4 बार सेवन करें

पथ्य-अपथ्य (परहेज)-

◆ रात्रि में दही-रायता,कोल्ड ड्रिंक,
◆ आइसक्रीम, खट्टी चीजों का सेवन
कतई न करें।
◆ गुन-गुने जल को ग्रहण करें।

 आपकी सुविधा के लिए-

प्राचीन काल में लिखे गए
आयुर्वेदिक ग्रन्थ
∆ आयुर्वेद सार-संग्रह
∆ रस-तन्त्र सार 
 
के अनुसार कफ,खाँसी,
गले की खराबी,सर्दी नाशक
उपायों को खोजकर
अमृतम ने विशुद्ध हर्बल माल्ट
लोजेन्ज माल्ट
अवलेह के रूप में (जैम की तरह)
निर्मित किया है,जो
फेफड़ों में जमी गंदगी,
कफ को बाहर निकाल कर
शरीर को बहुत राहत
प्रदान करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0
Amrutam Basket
Your cart is empty.
X