Day: June 4, 2018

Benefits of Aloe Vera | ग्वारपाटा के फायदे – Amrutam

प्राचीन समय मे चिकित्सा जगत में बीमारियो का उपचार करने के लिए आयुर्वेद का सहारा लेते थे और कुछ घरेलु उपचार किया करते थे। जिनमें एक नाम  है ग्वार पाटा । ग्वार पाटा को हम घृतकुमारी, रससार, मसुब्बर, एलुआ ऐलोवीरा आदि नामों से जानते है ग्वार पाटा के गुणो को हम अच्छी तरह से जानतें है हम सभी प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से इसका उपयोग किसी न किसी रूप में किया है। ग्वार पाटा मे अनेक प्रकार बीमारियो के उपचार के गुण मौजूद है। इसलिए आयुर्वेदिक उघोग में ग्वार पाटा की माँग बढ़ती जा रही है।

ग्वार पाटा का पौधा

ग्वारपाटा का पौधा बिना तने का या बहुत ही छोटे तने का गूदेदार और रसीला पौधा होता है जिसकी लम्बाई 60-100 सेन्टीमीटर तक होती है ग्वार पाटा की पत्तियाँ भालाकार मोटी और माँसल युक्त हाती है जिनका रंग हरा ,हरा स्लेटी होने के साथ-साथ कुछ पत्तियों के ऊपरी और निचली सतह पर सफेद धब्बे होते है।  इनकी पत्ति पर काँटे होते है। और गर्मी के मौसम में पीले रगं के फूल होते है।