असरकारक योग से निर्मित ऑर्थोकी गोल्ड कैप्सूल 88 तरह के वात विकार (अर्थराइटिस) जड़ से मिटाता है

वात को मारे लात

हमारे प्रतिरोधी तन्त्र यानी इम्यून सिस्टम में
कुछ ऐसे तत्व मौजूद होते हैं, जिनकी कमी
से शरीर में संक्रमण होता रहता है जैसे
सर्दी-जुकाम, निमोनिया आदि भी यदि गम्भीर
रूप धारण कर ले, तो क्षयरोग, हड्डियों की टीबी एवं ग्रंथिशोथ (थायराइड) आदि अनेक वातरोग यानि अर्थराइटिस को जन्म देते हैं।

 

लम्बे समय तक अर्थराइटिस बने रहने पर
शरीर में टूटन, सूजन, कम्पन्न, थायराइड, गठिया जैसी बीमारियां उत्पन्न होने लगती है, जो जटिल समस्याओं का समूह है।
वातविकार पुराना होने पर शरीर की हड्डियों
को गलाना शुरू कर देते हैं। जिससे जोड़ों में लचीलापन और लुब्रिकेंट कम या खत्म हो जाता है, जिससे
चलना मुश्किल हो जाता है।
सूजन आने लगती है।
हल्का से बुखार, थकान, आलस्य बना रहता है।
भूख नहीं लगती।
वजन कम होने लगता है।
रात में पसीना आता है।
गहरी नींद नहीं आती।
आदि क्रोनिक डिसीज़ हो जाती हैं।

आयुर्वेदिक चिकित्सा —

१०० फीसदी आयुर्वेद की बहुमूल्य ओषधियों जैसे- स्वर्ण भस्म, योगेंद्र रस, त्रिलोक्य चिंतामणि रस, वृहत वात चिंतामणि रस सभी स्वर्णयुक्त और शुद्ध गुग्गल,
शुद्ध शिलाजीत, त्रिकटु एवं त्रिफला आदि
असरकारक योग से निर्मित
ऑर्थोकी गोल्ड कैप्सूल 88 तरह के वात विकार (अर्थराइटिस) जड़ से मिटाता है।
यह निम्नलिखित रोगों को ठीक करता है।

ORDER ORTHOKEY GOLD CAPSULES NOW

हाथ-पैर, कमर, गर्दन, मांसपेशियों, घुटनों व जोड़ों के दर्द, पक्षाघात (लकवा) नई या पुरानी गठियावाय, कम्पन्न, अकड़न-जकड़न ग्रंथिशोथ (थायराइड), आमवात, साइटिका, संधिवात, निर्बलता एवं चिकगुनिया के बाद के दर्द का स्थाई समाधान है।
या विशेष उपयोगी या लाभदायक है।

ऑर्थोकी गोल्ड कैप्सूल वात-विकार ग्रस्त जाम नाडियों,
रस वाहिनियों व कोशिकाओं में रक्तसंचार (ब्लड सर्कुलेशन) सुचारू करता है।
कमजोर व सूखी हड्डियों में लुब्रिकेंट उत्पन्न कर, मजबूती और लचीलापन
देता है।
इम्युनिटी पॉवर वर्द्धिकारक है।
ऑर्थोकी गोल्ड केप्सूल
वातरोगों को दबाता नहीं है अपितु सभी
साध्य-असाध्य दोषों को दूरकर शरीर
का कायाकल्प कर देता है।
वातव्याधियों का शोधन करके हड्डियों को
मजबूत कर नवीन रस-रक्त का निर्माण करता है, जिससे सप्तधातु बलशाली होती हैं।

शरीर में ऊर्जा व अग्नि या जठराग्नि की कमी से उत्पन्न भूख की कमी, कमजोरी, कम्पन्न, कम्पवात, वातकटक, वातगुल्म, वातोदर, वातुल, वातोलम्बन व वाताण्ड आदि वात व्याधियो की समस्याओं
से निजात दिलाता है।
शरीर को निरोगी बनाने में यह विलक्षण है।
ऑर्थोकि गोल्ड केप्सूल

ORDER ORTHOKEY GOLD CAPSULES NOW

100% आयुर्वेदिक ओषधि
शरीर का त्रिदोष और त्रिताप सामान्य कर
मल-मूत्र विसर्जन की क्रियायों को नियमित करने में भी सहायक है।
ऑर्थोकी गोल्ड कैप्सूल-
उदर की कड़क और जाम नाडियों को मुलायम
कर वायु व वातविकार का नाश करता है।
दस्त साफ लाता है। कब्ज नहीं होने देता।


Be the first to comment “असरकारक योग से निर्मित ऑर्थोकी गोल्ड कैप्सूल 88 तरह के वात विकार (अर्थराइटिस) जड़ से मिटाता है”

  • Sign up
Lost your password? Please enter your username or email address. You will receive a link to create a new password via email.